MP Weather News : ग्वालियर-चंबल समेत 5 संभागों और 32 जिलों में बारिश का अलर्ट, ओलावृष्टि, आंधी, आंधी, 2 संभागों में गिरेगा तापमान, जानें आईएमडी का पूर्वानुमान

मध्य प्रदेश में 30 जनवरी तक बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। 5 संभागों में बारिश की चेतावनी जारी करते हुए वज्रपात और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गई है। कई जगहों पर न्यूनतम तापमान में गिरावट होगी।

www.advanceeducationpoint.com 83
MP Weather News

MP Weather News : फिलहाल 5 दिनों तक मध्य प्रदेश में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। पश्चिमी विक्षोभ का असर प्रदेश के सभी जिलों में देखा जा रहा है. भोपाल में रुक-रुक कर हो रही बारिश ने मौसम को खुशनुमा बना दिया है। सारा दिन बादल छाए रहते हैं। इसके अलावा मंगलवार और बुधवार को भी कई जिलों में बारिश देखने को मिली है. रायसेन ग्वालियर के अलावा चंबल व विदिशा अंचल में बारिश से मौसम सुहाना बना हुआ है, तापमान में गिरावट जारी है.

रायसेन जिले में कई जगह ओलावृष्टि देखने को मिली है. इसके अलावा गुरुवार को राज्य के अलग-अलग हिस्सों में बारिश की चेतावनी जारी की गई है. सतना, रीवा, गुना, दतिया, छतरपुर और पन्ना में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. साथ ही ग्वालियर, चंबल और भिंड गोहद की तस्वीर में ओलावृष्टि की संभावना व्यक्त की गई है।

टीकमगढ़, देवास, मुरैना और गुना में भी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। बुंदेलखंड सागर और रीवा संभाग में 26 से 28 जनवरी तक बारिश की चेतावनी भी जारी की गई है, जबकि ग्वालियर, इंदौर, भोपाल में भी वज्रपात और बिजली गिरने की संभावना जताई गई है.

5 संभागों में बारिश के आसार –

पश्चिमी विक्षोभ के कारण जनवरी के अंत तक ग्वालियर चंबल समेत 5 संभागों में बारिश के आसार हैं। गणतंत्र दिवस और बसंत पंचमी के मौके पर भी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए कहा गया था कि शाम 5:00 बजे से एक बार फिर मौसम में बदलाव होगा. सामान्य से कम तापमान में गिरावट देखी जा सकती है। फिलहाल एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है जबकि एक और पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है जबकि एक और पश्चिमी विक्षोभ 28 जनवरी को सक्रिय होगा।

मौसम प्रणाली

पश्चिमी विक्षोभ के पाकिस्तान के ऊपर हवा के ऊपरी हिस्से में चक्रवात के रूप में सक्रिय होने के कारण ओडिशा के आसपास एंटी साइक्लोनिक स्थिति विकसित हो गई है। 30 जनवरी के बीच आसमान में बादलों की आवाजाही जारी रहने के साथ ही ठंड बढ़ने के संकेत भी नजर आएंगे। राजधानी भोपाल में 25 जनवरी को तेज आंधी के साथ बारिश हुई, जबकि कई जगहों पर पेड़ गिर गये. बिजली की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। भोपाल के अलावा ग्वालियर, चंबल संभाग के शहडोल और इंदौर सहित अन्य जिलों में भी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है.

इन इलाकों में बारिश

राजधानी भोपाल में रातभर झमाझम बारिश हुई है। उन्होंने 24 घंटे में 1.22 इंच बारिश दर्ज की, इसके अलावा इंदौर, ग्वालियर, रीवा, सतना संभाग और शहडोल संभाग में बारिश देखने को मिली है, इसके अलावा कई इलाकों में तेज बारिश, कुछ इलाकों में बूंदाबांदी से मौसम बदला है.

मौसम विज्ञानियों के अनुसार 28 जनवरी के बाद भी हल्की बारिश का दौर जारी रहेगा। 28 जनवरी को तीसरा सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर, हिमालय और उत्तराखंड पर बर्फबारी देगा। जिससे मैदानी इलाकों में 31 दिसंबर तक तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी। इसके साथ ही बादलों की आवाजाही जारी रहेगी। रायसेन में 0.78 इंच बारिश हुई है। नर्मदा पुरम में 1.10 इंच बारिश दर्ज की गई। भोपाल में। 0.67 इंच बारिश दर्ज की गई है जबकि नौगांव में 0.56 खजुराहो में 0.45 सागर जिले में 0.24 खंडवा में 0.15 खरगोन में 0.04 ग्वालियर में 0.04, गुना में 0.03 बारिश दर्ज की गई है।

IAS TRANSFER NEW LIST 2023 :आईएएस-(IAS)पीसीएस(PCS) अधिकारियों के थोक

Leave a Comment

Copy link
Powered by Social Snap