MP Board Exam 2021: जुलाई में होगी 12 वीं की परीक्षा , जून में आएगा फैसला , परीक्षा होगी ऑफलाइन

         हाल ही आई मिडिया रिपोर्ट के अनुसार मध्य प्रदेश बोर्ड के 12 वीं के एग्जाम का फैसला जून के पहले हफ्ते में हो जायेगा . MPBSE ( मध्य प्रदेश बोर्ड बोर्ड से आई जानकारी, 12 वीं की परीक्षा का निर्णय जून के पहले हफ्ते में ले लिया जायेगा , बोर्ड 12 वीं की परीक्षा को ऑफलाइन मोड में आयोजित कराएगा . हालाँकि अभी तक बोर्ड ने कोई भी शेड्यूल जारी नही किया है . मिडिया में आई जाकारी के अनुसार स्कूल शिक्षा मंत्री इन्दर सिंह परमार बोर्ड के साथ परीक्षा का खाका तैयार करने की तैयारीयों में लग गये है . परीक्षा कब आयोजित होगी इस सम्बन्ध में बोर्ड जून के पहले हफ्ते में फैसला लेगा .

       कुछ मिडिया रोपोर्ट में दावा किया जा रहा है की सीबीएसई बोर्ड 1 जून को 12 की परीक्षा के लिए टाइम टेबल जारी किया जाएगा . 12 वीं के बोर्ड की परीक्षा का होना बहुत ही ज्यादा जरूरी है साथ ही परीक्षा का समय से समाप्त होना और रिजल्ट का आना भी जरूरी है . इसका कारण है भविष्य में आने वाले एग्जाम और बिना परीक्षा के सही मापदंड का  न होना . बोर्ड / सीबीएसई की परीक्षा समाप्त होने पर नीट और जेई का भी एग्जाम होना है , जिसके द्वारा लाखो बच्चों का भविष्य तय होना है .

Advertisements

1 मई से होनी थी परीक्षा :

   मध्य प्रदेश बोर्ड ने 12 वीं की परीक्षाओं को 1 मई से आयोजित करनी थी परन्तु कोरोना महामारी के कारण परीक्षा को रद्द करना पड़ा . इस वर्ष 10 वीं के विद्यार्थियों को पिछले वर्ष के मूल्यांकन के आधार पर इस वर्ष  पास कर रिजल्ट बनाने की तैयारी में लग गये है .

Advertisements

प्रमुख विषयों की होगी परीक्षा : 

     ऐसा कयास लगाया जा रहा है की बोर्ड केवल महत्त्वपूर्ण विषयों की परीक्षा लेगा . इसका कारण है की परीक्षा के दौरान संक्रमण के फैलाव को रोकना . साथ ही एग्जाम को कम समय में पूर्ण करा लिया जाये . जो अन्य विषय बचेंगे उनमें बच्चो को आंतरिक मूल्याङ्कन के हिसाब से बच्चों को पास किया जायेगा . शेष जानकरी या पूर्ण जानकारी जून में होने वाली बैठक से पता चलेगा . 

Advertisements

ऑनलाइन परीक्षा आयोजित क्यों नही होगी :

    बोर्ड के पास ऐसा कोई भी संसाधन नही है जिसके द्वारा बोर्ड सभी बच्चों की ऑनलाइन परीक्षाये आयोजित करा सके . शहरी क्षेत्रों के बच्चों को छोड़कर शेष ग्रामीण क्षेत्रों में तो बच्चों के अभिभावकों के पास भी एंड्राइड मोबाइल उपलब्ध नही है . इस कारण बोर्ड ने फैसला लिया की सभी परीक्षाये ऑनलाइन मोड में ही आयोजित कराई जाएँगी .

Advertisements

 

According to the recent media report, the decision of the 12th examination of Madhya Pradesh Board will be done in the first week of June. MPBSE (Information from the Madhya Pradesh Board Board, the decision of 12th examination will be taken in the first week of June, the board will conduct the 12th examination in offline mode. However, till now the board has not issued any schedule. According to the media reports, School Education Minister Inder Singh Parmar has started preparations with the board to prepare the blueprint for the examination. The board will take a decision in the first week of June regarding when the examination will be conducted.

It is being claimed in some media reports that the CBSE Board will release the time table for the 12th examination on 1st June. It is very important to have the 12th board exam, as well as the completion of the exam on time and the result is also important. The reason for this is the lack of proper criteria for future exams and without exams. Neet and JE will also have an exam at the end of the board / CBSE examination, by which the future of millions of children is to be decided.

Advertisements

The exam was to be held from May 1:

The Madhya Pradesh Board was supposed to conduct the 12th examinations from May 1, but due to the Corona epidemic, the exam had to be canceled. This year the 10th students have started preparing for making the result after passing this year on the basis of the previous year’s evaluation.

Advertisements

Examination of major subjects will be :

It is being speculated that the board will only take examination of important subjects. The reason for this is to prevent the spread of infection during the examination. Also, the exam should be completed in a short time. In the other subjects which are left, the children will be passed on to the children according to the internal assessment. The remaining information or full information will be known from the meeting to be held in June.

Advertisements

Why will the online exam not be conducted?

The board does not have any resource through which the board can conduct online examinations of all children. Except for children in urban areas, Android mobiles are not available even with the parents of children in rural areas. For this reason the board has decided that all the examinations will be conducted in online mode only.

Advertisements