CM Shivraj : बालिकाओं को लाडली लक्ष्मी योजना के तहत मिलेगी अन्य सुविधाएँ

Latest Update: MP Ladli Laxmi Yojana में इस चालु वित्त वर्ष के पिछले 6 महीने में 1.31 लाख लड़कियों का लाडली लक्ष्मी योजना में पंजीकरण हुआ है. मध्य प्रदेश [ Madhya Pradesh ] में लाडली लक्ष्मी योजना [ Ladli Lakshmi Yojana ] के तहत पंजीकृत बालिकाओं के लिए मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान [ CM Shivraj Singh Chauhan ] ने बड़े एलान किये. हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में लाडली लक्ष्मी योजना 2.0 की समीक्षा बैठक में कहा की बालिकों को साड़ी सुविधाओं का लाभ मिलना चाहिए. इसके साथ ही ब्लॉक , ग्राम पंचायत और जिला स्तर पर लाडली लक्ष्मी दिवस [ Ladali Lakshmi Divas ] का आयोजन किया जाना चाहिए .

 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा की राज्य , जिला , ब्लॉक और ग्राम पंचायत स्तर पर लाडली लक्ष्मी दिवस का आयोजन किया जाए साथ ही अनाथ बालिकाओं को लाडली लक्ष्मी योजना में जोड़ा जाए. मुख्यमन्त्री ने अधिकारीयों को निर्देश दिए की ग्राम पंचायतों एवं ग्रामों को लाडली लक्ष्मी फ्रेंडली घोषित करने के लिए मापदंड तैयार करे तथा 18 वर्ष से ऊपर आयु वाली सभी लाडली लक्ष्मी को ड्राइविंग लाइसेंस जारी किये जाएँ.

 

लाडली लक्ष्मी योजना के बारे में पढ़े …

 

लाडली लक्ष्मी योजना का शुभारम्भ 2007 में किया गया था जिसका उद्देश्य लड़कियों की सामाजिक और शैक्षिक स्थिति में सुधर करना और विषम लिंगानुपात को सुधारना है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बताया की इस वित्त वर्ष में 1.31 लाख लड़कियों का लाडली लक्ष्मी योजना में पंजीकरण हुआ है. साथ ही कहा की लाडली बालिकाओं के शासकीय – अशासकीय मेडिकल, इंजीनियरिंग, IIT, आईआईएम में प्रवेश पर पढाई का खर्च राज्य सरकार वहां करेगी. उन्होंने कहा की लाडली बालिका कॉलेज में प्रवेश लेगी तो उसे 25000 रूपये दिए जायेंगे. स्कालरशिप लाडलियों के खाते में सीधे भेजे जाते है. मुख्य मंत्री ने कहा की मुझे ख़ुशी है की लाडली लक्ष्मियों की संख्या 41 लाख हो गयी .

X
Optimized by Optimole