MP Board Update : स्कूल शिक्षा विभाग की बड़ी तैयारी कक्षा पांचवी और आठवीं बोर्ड परीक्षा पर आई नई अपडेट

मध्यप्रदेश में एक बार फिर से मध्य प्रदेश स्कूल कक्षा पांचवी और आठवीं की बोर्ड परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। हालांकि क्रोनो संक्रमण के कारण इस वर्ष परीक्षा की तारीख को आगे बढ़ाया जा सकता है फिलहाल आ रही जानकारी के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर के कारण परीक्षा वार्षिक कैलेंडर से आगे बढ़ाई जाएगी वहीं माना जा रहा है कि कक्षा 5 से कक्षा 8 की बोर्ड परीक्षा मार्च में होने की बजाय अब अप्रैल में कराई जा सकती है।

मीडिया की मानें तो स्कूल शिक्षा विभाग के द्वारा परीक्षा को आगे बढ़ाने की तैयारी का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। हालांकि अभी तक इस मामले में शासन की तरफ से कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किए गए । वही शिक्षण और बढ़ते मामलों पर नजर बनाए हुए हैं । मगर कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं । परीक्षा का आयोजन नहीं किया जाता तो बच्चों के घर भेज कर वार्षिक परीक्षा ली जाएंगी।

Advertisements

इसे भी पढ़े ….. मध्य प्रदेश बोर्ड {Madhya Pradesh board} कक्षा दसवीं (10वीं) और बारहवीं (12वीं) वार्षिक परीक्षा,जरूरी सूचना

वर्तमान में मध्यप्रदेश में कोरोना के संक्रमण के मामले की रफ्तार में धीमी देखी जा रही है । जिसके हिसाब से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि मध्यप्रदेश बोर्ड कक्षा पांचवी और आठवीं की बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन अप्रैल महीने में आने की संभावना है। हालांकि स्थानीय स्तर पर विभाग द्वारा इस संबंध में अभी तक कोई भी आदेश जारी नहीं किए गए हैं।

Advertisements
०३ 1
MP Board Update

इससे पहले कोरोना के कारण सरकार द्वारा ऑफलाइन कक्षाएं बंद कर दी गई है । ऑनलाइन कक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है स्कूल खोलने के निर्देश फरवरी माह में जारी किए जाएंगे वही माना जा रहा है, कि कक्षा 10वीं एवं 12वीं की बोर्ड परीक्षा को देखते हुए फरवरी में स्कूल खोले जा सकते हैं । फरवरी में प्रैक्टिकल परीक्षा का आयोजन हो रहा है। ऐसे में राज्य सरकार द्वारा प्रदेश भर में शासकीय और एहसास के स्कूलों में फरवरी महीने में कक्षाएं संचालित की जा सकती है।

इसे भी पढ़े …… Madhya Pradesh Schools Reopen 2022: जल्द खुल सकते हैं स्कूल -सीएम शिवराज

Advertisements

हालांकि आपको बता दें कि साल 2021 में कक्षा पांचवी और आठवीं के बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए कोरोना की दूसरी लहर की वजह से बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन नहीं किया गया था। परीक्षाओं का आयोजन ना होने की वजह से उन्हें जनरल प्रमोशन दे दिया गया था। साथ ही ऐसे छात्रों को प्रमोट कर दिया गया था हालांकि इस साल किसी भी छात्र को जनरल प्रमोशन नहीं दिया। जाएगा और कक्षा पांचवी एवं आठवीं की बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन किया जाना है । दरअसल इस मामले में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने भी अपनी बात स्पष्ट कर दी है। इसके बाद छात्रों को आगे प्रमोट नहीं किया जाएगा । साथ ही फेल होने वाले छात्रों को दोबारा परीक्षा देनी होगी 13 साल के बाद एक बार फिर से मध्यप्रदेश में कक्षा पांचवी और आठवीं के लिए बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन किया जाना है।

आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा प्रदान की गई है जानकारी पसंद आई होगी । आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं।

Advertisements