HomeOther ArticleMP News in hindi : स्कूल-कॉलेज के छात्रों के लिए खुशखबरी, शिक्षकों...

MP News in hindi : स्कूल-कॉलेज के छात्रों के लिए खुशखबरी, शिक्षकों को दी जाएगी ट्रैफिक ट्रेनिंग, सिखाएंगे ट्रैफिक के नियम

- Advertisement -

इसके लिए सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को पत्र लिखा गया है कि वे जिला शिक्षा अधिकारियों से बात कर हर स्कूल-कॉलेज में एक शिक्षक को इसके लिए प्रशिक्षित करें. जल्द ही पुलिस अधीक्षक जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक कर इसकी रूपरेखा तय करेंगे और हर स्कूल-कॉलेज से एक-दो शिक्षकों को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा.

www.advanceeducationpoint.com 74
MP News in hindi
MP NEWS IN HINDI : मध्य प्रदेश के स्कूल और कॉलेज के छात्रों के लिए अच्छी खबर है। मध्य प्रदेश में बढ़ रहे सड़क हादसों को रोकने के लिए अब राज्य सरकार ट्रैफिक पुलिस शिक्षकों की मदद लेगी. इसके तहत शिक्षक छात्रों को यातायात नियमों का पाठ पढ़ाएंगे, इसके लिए शिक्षकों को यातायात प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके तहत हर स्कूल और कॉलेज से दो-दो शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इससे न सिर्फ छात्रों को फायदा होगा बल्कि सड़क हादसों में भी कमी आएगी।
कलेक्टर की प्रेसवार्ता होई नाराज : पत्रकारों ने मिलकर किया बहिष्कार

पुलिस अधीक्षकों को लिखा पत्र

दरअसल, राज्य में हर साल लगभग 12000 लोग सड़क दुर्घटनाओं में मारे जाते हैं, जिनमें ज्यादातर युवा होते हैं, ऐसे में यह निर्णय लिया गया है कि अब मध्य प्रदेश के सभी स्कूलों और कॉलेजों में यातायात नियमों के बारे में पढ़ाया जाएगा और शिक्षकों को इसके लिए प्रशिक्षित हों। दिया जाएगा, ताकि हादसों में कमी आए और विद्यार्थी यातायात नियमों का ठीक से पालन करें। पुलिस मुख्यालय की ओर से राज्य के सभी पुलिस अधीक्षकों को प्रशिक्षण के लिए पत्र लिखा जा चुका है.

- Advertisement -

जल्द ही रूपरेखा तैयार होगी

जल्द ही पुलिस अधीक्षक जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक कर इसकी रूपरेखा तय करेंगे और हर स्कूल-कॉलेज से एक-दो शिक्षकों को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा. यही स्टडी मटेरियल की सॉफ्ट कॉपी उन्हें भी उपलब्ध कराई जाएगी। इसके बाद शिक्षक विषय की कक्षा शुरू करने से पहले या एक दिन तय कर छात्रों को प्रशिक्षण देंगे। वहीं प्रैक्टिकल के लिए उन्हें ट्रैफिक कंट्रोल प्वाइंट भी दिखाए जाएंगे। इसका फायदा यह होगा कि जरूरत पड़ने पर इन शिक्षकों को ट्रैफिक कंट्रोल के काम में भी लगाया जा सकता है।

यह जिम्मेदारी शिक्षकों को सौंपी जाएगी

खास बात यह है कि जिस तरह हर स्कूल में खेल या योग के शिक्षक हैं, उसी तरह स्कूलों में भी एक शिक्षक को यातायात सिखाने की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। अधिकारियों से बात कर हर स्कूल-कॉलेज में इसके लिए एक शिक्षक को प्रशिक्षित करें।

MPPSC 2023 Bharti : उम्मीदवारों के लिए बहुत अच्छी खबर जाने १४७१ पदों पर निकली गई भर्ती
- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Copy link
Powered by Social Snap