HomeएजुकेशनMP BOARDMP Board Prashn Bank 2022 | अर्द्धवार्षिक परीक्षा के बाद निदानात्मक कक्षाओं...

MP Board Prashn Bank 2022 | अर्द्धवार्षिक परीक्षा के बाद निदानात्मक कक्षाओं में पसीना बहायेंगे शिक्षक

- Advertisement -

MP Board Update: आज के इस लेख मे हम आपको मध्य प्रदेश बोर्ड में चल रही हलचल से सम्बंधित सभी अपडेट देंगे.  फरवरी में दसवीं बारहवीं की प्रस्तावित परीक्षाओं को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग चिंतित हुआ है। विषय संबंधी पुस्तकें खोलने की बजाए अब शिक्षक विभाग द्वारा तैयार प्रश्न बैंकों के माध्यम से बच्चों को पढ़ाएंगे। विभाग द्वारा तैयार प्रश्न बैंकों के माध्यम से बच्चों को पढ़ाएंगे। विभाग द्वारा इसकी पूरी व्यवस्था कर ली गई है। कक्षा नौंवी से बारहवीं तक प्रश्न बैंकों के माध्यम से ही पढ़ाई होगी। इस व्यवस्था में तकरीबन 40 लाख बच्चे अध्ययन करेंगे। विभाग द्वारा चयनित विषय विशेषज्ञों द्वारा यह प्रश्न बैंक तैयार किए गए हैं। तकरीबन आधा माह से इस सिस्टम पर काम चल रहा था, जो पूर्ण हो चुका है। प्रश्न बैंक तैयार करके बाकायदा विमर्श पोर्टल पर अपलोड कर दिए गए हैं। अधिकारियों का कहना है कि कक्षा नौंवी और दसवीं के लिए अलग से माॅड्यूल भी बनाया गया है।

इस माॅडल को निदानात्मक कक्षाओं में प्रयोग किया जाएगा। लोक शिक्षण संचालनालय में अधिकारियों का कहना है कि 8 दिसंबर को अर्द्धवार्षिक परीक्षा समाप्त हो रही है। इस परीक्षा के अगले ही दिन से बच्चे निदानात्मक कक्षाओं में पड़ेंगे। अधिकारियों की सबसे बड़ी चिंता जो बच्चे डी ग्रेड ई – 1 और ई – 2 में रखे गए हैं। उनकी तैयारी में मेहनत करना बेहद आवश्यक है। कारण है कि ऐसे बच्चे विभाग के लिए चुनौती बने हुए हैं। अधिकारियों का कहना है कि खासकर इन्हीं बच्चों की तैयारी के लिए प्रश्न बैंक और माॅड्यूल का सहारा लिया गया है।

- Advertisement -

40 लाख बच्चों की अब प्रश्न बैंक से तैयारी, शिक्षा अधिकारियों को भेजा माॅड्यूल

re 1 1

मंडल के ब्लूप्रिंट पर तैयार हुए प्रश्न बैंक : अधिकारियों का कहना है कि 10वीं और 12वीं कक्षाओं के लिए जो प्रश्न बैंक तैयार हुए हैं। उसमें मंडल द्वारा तैयार ब्लूप्रिंट का उपयोग किया गया है। इसी प्रिंट के आधार पर यह प्रश्न बैंक बनाए गए हैं। इन दोनों ही कक्षाओं में करीब 20 हजार बच्चों की तैयारी करवाई जाएगी। इतने ही बच्चे नवीं और ग्यारहवीं की कक्षाओं के हैं। जिनके लिए विभाग द्वारा अलग से विषय विशेषज्ञों द्वारा प्रश्न बैंक तैयार किए गए हैं।

कमिश्नर ने दिए मैदानी अफसरों को निर्देश

इस व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए लोक शिक्षण संचालनालय के आयुक्त अभय वर्मा द्वारा जिला शिक्षा अधिकारियों को सख्त निर्देश एि गए हैे, कहा गया है कि जो प्रश्न बैंक तैयार किए गए हैं। उन्हें विमर्श पोर्टल पर अपलोड कर दिया गया है। अब इन्हें अपलोड करके जिला शिक्षा अधिकारी प्रिंट करवाएंगे। उसके बाद कक्षा में बच्चों को इसके माध्यम से पढ़ाया जाएगा।

 

- Advertisement -
- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Copy link
Powered by Social Snap