DAP UREA New Rate : किसानों के लिए खुशखबरी, खाद के दाम घटे, यहां देखें

DAP UREA New Rate : आप सभी किसान भाई जानते ही होंगे कि सर्दी का मौसम शुरू हो चुका है और रवि की फसल की बुआई भी शुरू हो चुकी है, अब इस बुआई के दौरान सभी किसानों को खेतों में गेहूं की बुआई के लिए डीएपी यूरिया खाद की जरूरत पड़ती है. . लेकिन हाल ही में देखा गया है कि विक्रेताओं द्वारा डीएपी यूरिया की मांग बढ़ने के कारण मंडियों में डीएपी यूरिया की कमी हो रही है, जिससे सबसे ज्यादा परेशानी किसानों को हो रही है।

अगर आप भी डीएपी यूरिया खाद के लिए परेशान नहीं होना चाहते हैं और सस्ते दामों पर डीएपी यूरिया खाद की बोरी खरीदना चाहते हैं तो आज हम इस लेख के माध्यम से डीएपी यूरिया सस्ते दामों में कैसे खरीदें इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। इसके साथ ही डीएपी यूरिया की मांग में वृद्धि के कारण डीएपी यूरिया बोरियों के लिए नई दरें निर्धारित की गई हैं, जिसकी पूरी जानकारी इस लेख के तहत प्रदान की गई है, इसलिए सभी किसान भाई इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

डीएपी यूरिया की नई दर

हमारे देश के सभी किसान भाइयों को किसी भी फसल को उगाने के लिए सबसे ज्यादा डीएपी और यूरिया खाद की जरूरत होती है। और साथ ही इस सर्दी के मौसम में रवी की फसल की बुवाई शुरू हो चुकी है, जिसमें उगाई जाने वाली सभी फसलों के लिए डीएपी और यूरिया खाद की सबसे ज्यादा जरूरत होती है, ताकि पौधों को डीएपी और यूरिया खाद की मदद से सभी आवश्यक तत्व मिल सकें। दिए गए है।

लेकिन रवि की फसल बोने के कारण बाजार में डीएपी और यूरिया खरीदने वाले विक्रेताओं के कारण बाजार में डीएपी और यूरिया की भारी कमी हो रही है, जिससे सभी किसानों को काफी परेशानी हो रही है और साथ ही मैं डीएपी व यूरिया खाद नहीं मिल रहा है। आप सभी की इसी समस्या के समाधान के लिए आज हम इस लेख के माध्यम से इसकी पूरी जानकारी लेकर आ रहे हैं कि आप डीएपी और यूरिया खाद सस्ते दामों में कहां से खरीद सकते हैं।

Beneficiary List of PM Kisan 2022-23 : इन किसानों को मिलेंगे 4000 रुपये, नई लिस्ट में चेक करें

रवी की फसल अक्टूबर से नवम्बर माह में बोई जाती है

आप सभी किसान भाइयों को पता ही होगा कि अक्टूबर से नवंबर के बीच में सर्दी का मौसम शुरू हो जाता है, जिससे रबी की फसल की बुवाई शुरू हो जाती है। और यह वह समय है जब सभी किसान भाइयों को रबी की फसल बोने के लिए फसल की उपज बढ़ाने के लिए डीएपी और यूरिया खाद की जरूरत होती है साथ ही गेहूं की फसल बोने के लिए सबसे ज्यादा जरूरत सभी किसान भाइयों को डीएपी की होती है। खाद का है।

सभी किसान भाइयों के लिए हम आपको बता दें कि डीएपी और यूरिया खाद अक्टूबर से नवंबर के बीच बाजार में बिकने लगती है, ताकि शुरुआत में डीएपी खाद स्थिर रहे और धीरे-धीरे विक्रेता इस दर को बढ़ा देते हैं। अगर आप भी बढ़ती मांग के साथ डीएपी और यूरिया की बोरियां ज्यादा रेट पर नहीं खरीदना चाहते हैं तो आप इस खाद को स्टोर करके रख लें।

डीएपी यूरिया खाद कहां से सस्ते दामों में खरीदें

यदि आप सभी किसान भाई भी समय के साथ डीएपी और यूरिया खाद की मांग में वृद्धि से परेशान हैं और डीएपी और यूरिया खाद सस्ते दामों पर खरीदना चाहते हैं तो आप इन खातों के विक्रेताओं से खरीदने के बजाय सरकारी खाद्य दुकानों से संपर्क करें। बाजार। सभी किसान भाइयों को सरकारी दुकानों से डीएपी और यूरिया खाद प्राप्त करने के लिए हर जिले में हर ब्लॉक में सोसायटी बनाई जाती है।

इन सोसायटियों में आपको डीएपी और यूरिया खाद न्यूनतम कीमत पर उपलब्ध देखने को मिलेगी। इसके साथ ही प्रत्येक जिले में कुछ सरकारी दुकानें उपलब्ध कराई जाती हैं, जिनमें डीएपी और यूरिया खाद की बिक्री होती है। इन दुकानों से खाद खरीदने के लिए आपको आधार कार्ड और जमीन की कॉपी साथ रखनी होगी।

डीएपी और यूरिया की नई दरें लागू

मीडिया सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रत्येक सरकारी दुकान व सोसायटी में प्रत्येक दर्शक को डीएपी व यूरिया खाद की थैलियां 1350 रुपये में उपलब्ध करायी जा रही है. इसके अलावा अगर डीएपी और यूरिया की बोरी की वास्तविक कीमत की बात करें तो यह बोरी आपको 276.12 रुपये में देखने को मिल जाती है।

हालांकि डीएपी और यूरिया की बोरियों पर अलग-अलग राज्यों के हिसाब से टैक्स लागू होता है और साथ ही सभी विक्रेता अलग-अलग बाजारों में अपनी मनमानी के हिसाब से डीएपी और यूरिया खाद की बोरियां बेचते हैं। यदि आप सस्ते दामों पर खाद खरीदना चाहते हैं तो समय से पहले ही जमा कर लें जिससे आपको सस्ते दामों पर डीएपी और यूरिया खाद की थैलियां देखने को मिल जायेंगी।

खाद की प्रति बोरा कीमत कितनी है (दिसम्बर-2022)

नवंबर से दिसंबर के महीने में डीएपी और यूरिया की सबसे ज्यादा डिमांड किसानों को होती है। जिसके तहत आपको प्रति बैग डीएपी और यूरिया खाद की कीमत देखने को मिलती है तो नीचे दी गई जानकारी के माध्यम से आप सभी किसान भाई प्रति बैग डीएपी और यूरिया खाद की कीमत की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे:-

उर्वरकरुपये प्रति बैग की कीमत
यूरिया266.50
काटने का निशान1350
एनपीके(12.32-16-0) :-1470
एनपीके(10-26-26) :-1470
एनपीके(20-20-0-13) :-1470
एमओपी1700
एसएसपी400

किसानों को डीएपी और यूरिया खाद पर कितनी सब्सिडी दी जाएगी?

केंद्र सरकार 2021-22 में उर्वरकों पर 1,62,132 करोड़ रुपये की सब्सिडी दे रही है।

डीएपी और यूरिया की नई दर प्रति बोरी के हिसाब से कितने रुपए निर्धारित किए गए हैं?

यूरिया :- 266.50 रु
डीएपी :- 1350 रुपये

Leave a Comment

Copy link
Powered by Social Snap