कक्षा 12 भौतिक विज्ञान विद्युत आवेश तथा क्षेत्र लघु उत्तरीय प्रश्न

कक्षा 12 भौतिक विज्ञान विद्युत आवेश तथा क्षेत्र लघु उत्तरीय प्रश्न

( Class 12th Physics Chapter 01 Short Question Answer )

कक्षा 12 भौतिक विज्ञान विद्युत आवेश तथा क्षेत्र लघु उत्तरीय प्रश्न
कक्षा 12 भौतिक विज्ञान विद्युत आवेश तथा क्षेत्र लघु उत्तरीय प्रश्न

कक्षा 12 में भौतिक विज्ञानं के महत्वपूर्ण प्रश्न जो बार बार परीक्षा में पूछे जाते है उन सभी प्रश्नों का एक ही जगह उत्तर सहित उपलब्ध कराया गया है जो की बोर्ड परीक्षा की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण है . अत : मुझे आशा है की ये प्रश्न आपको आपकी परीक्षा में बहुत ज्यादा मदद करेंगे . किसी भी अन्य सुझाव या किसी भी प्रकार की शंका के लिए आप हमें कमेंट करके बता सकते है . धन्यवाद ….

Advertisements

 

प्रश्न 01 : विद्युत आवेश से आपक क्या समझते है ?

उत्तर : विद्युत आवेश : जिस मूल कारन की उपस्तिथि से वस्तुओं में एनी वस्तुओं को अपनी और आकर्षित करने का गुण आ जाता है , उसे विद्युत आवेश कहते है ?

Advertisements

 

प्रश्न 02 : एक धातु के गोले को विधुत से आवेशित किया जाता है . इस कथन का क्या तात्पर्य है ?

उत्तर : इस कथन का अर्थ है –

Advertisements
  1. यदि गोला धनावेशित है तो उससे कुछ इलेक्त्रों हटाये गये है .
  2. यदि गोला  ऋणावेषित है तो उसे कुछ अतिरिक्त इलेक्त्रों दिए गये है .

 

प्रश्न 03 : ठीक बराबर द्रव्यमान के दो सर्वसम धातु के गोले लिए गये है . एक को Q ऋण आवेश से तथा दुसरे को उतने ही धन आवेश से आवेशित किया जाता है . क्या दोनों गोलों के द्रव्य्मानो में कोई अंतर आ जायेगा और क्यों ?

उत्तर : दोनों गोलों के द्रव्यमानों में अंतर आजायेगा ; क्योंकि धनावेशित गोले से इलेक्त्रों निकल जाने से उसका द्रव्यमान कुछ कम हो जायेगा , जबकि ऋणावेषित गोले पर इलेक्ट्रोन आ जाने से उसका द्रव्यमान कुछ बढ़ जायेगा .

Advertisements

 

प्रश्न 04 : मूल आवेश की परमाणुकता से आप क्या समझते है ?

अथवा विधुत आवेश के क्वान्तिकरण से आप क्या समझते है ?

Advertisements

उत्तर : आवेश का क्वंतिकरण / परमाणुकता – किसी वास्तु को आवेश , एक न्यूनतम इकाई ( e ) के पूर्ण गुणजो के रूप में ही दिया जा सकता है . अत : किसी वस्तु को दिया गया आवेश q = ± ne , जहाँ n कोई पूर्णांक है . इस प्रकार किसी वस्तु पर आवेश q = ± 1 ne = ± 2 ne  = ±3  ne  …… हो सकता है .इनके बीच में नही . आवेश के इस गुण को आवेश का क्वंतिकरण / परमाणुकता  कहते है .

 

प्रश्न 05 : मूल आवेश से आप क्या समझते हो ? इसका मान कितना है ?

Advertisements

उत्तर :  “वस्तुओं के बीच आवेश का आदान प्रदान , आवेश की एक न्यूनतम मात्र ( e ) के पूर्ण गुणजो के रूप में ही किया जा सकता है ” आवेश की इस न्यूनतम मात्र को ही मूल आवेश कहते है . इसका मान 1.6 × 10-19 कुलाम होता है .

 

प्रश्न 06 :विधुत क्षेत्र से क्या तात्पर्य  है ?

Advertisements

उत्तर : किसी विधुत आवेश अथवा आवेश – समुदाय के चरों और स्थित वह क्षेत्र, जिसमें कोई  अन्य आवेश आकर्षण अथवाप्रतिकर्षण के बल का अनुभव करता है , उस आवेश अथवा आवेश समुदाय का विधुत क्षेत्र अथवा विधुत बल क्षेत्र कहलाता है .

 

प्रश्न 07 : विधुत क्षेत्र की तीव्रता से क्या तात्पर्य है ? इसका मात्रक भी लिखिए .

Advertisements

उत्तर : विधुत क्षेत्र में किसी बिंदु पर रखे परिक्षण आवेश पर लगने वाले विधुत बल तथा परीक्षण आवेश के अनुपात को उस बिंदु पर विधुत क्षेत्र की तीव्रता कहते है ?

 

प्रश्न 08 : विधुत बल रेखाएं किसे कहते है?

Advertisements

उत्तर : विधुत क्षेत्र में खिंची गयी वे काल्पनिक निश्कों वक्र रेखाएं जिन पर कोई स्वतंत्र धन परीक्षण आवेश गति करता है , बैधुत बल रेखाएं कहलाती है .

 

प्रश्न 09 : विधुत बल रेखाएं एक – दुसरे को क्यों नही काटती ?

Advertisements

अथवा क्या किसी धन बिंदु आवेश q से चलते वाली दो विधुत बल रेखाए  एक दुसरे को काट सकती है ? कारण बताइए .

उत्तर : दो विधुत बल रेखाएं कभी एक दुसरे को नही काट सकती क्योंकि इस स्थिति में कटान बिंदु पर दो स्पर्श रेखाएं खिचीं जायेगी जो उस बिंदु पर विधुत क्षेत्र की दो दिशाएं प्रदर्शित करेगी जो की असंभव है .

Advertisements

 

प्रश्न 10 : यदि बिंदु आवेश पर विधुत बल रेखाएं आकर मिलती है तो इस बिंदु आवेश की प्रकृति कैसी होगी ?

उत्तर : बिंदु आवेश की प्रकृति ऋणात्मक होगी क्योंकि विधुत बल रेखाएं धन आवेश से ऋण आवेश की और चलती है .

Advertisements

 

 

 

 

इन्हें भी पढ़े ……

Advertisements