भारतीय शिक्षा का इतिहास एवं विकास -महत्वपूर्ण प्रश्न 57

‘कोठारी आयोग’ द्वारा प्रस्तुत शैक्षिक अवसरों की समानता संबंधित सुझाव को स्पष्ट कीजिए।

उत्तर शैक्षिक अवसरों की समानता को उपलब्ध करने के लिए आयोग ने कुछ सुझाव प्रस्तुत किए हैं। सर्वप्रथम आयोग ने सुझाव दिया कि धीरे-धीरे विभिन्न स्तरों पर शिक्षा को निशुल्क बनाया जाना चाहिए। इसके अतिरिक्त शिक्षा संबंधित अन्य खर्चो को भी निरंतर घटाने का प्रयास किया जाना चाहिए। इस उद्देश्य से छोटे बच्चों को पाठ्य पुस्तक एवं अन्य आवश्यक सामग्री मुक्त दी जानी चाहिए। विद्यालयों में पुस्तककोस तथा पुस्तकालय अधिक संख्या में स्थापित की जानी चाहिए। एक अन्य सुझाव के अंतर्गत स्पष्ट किया गया है कि सभी स्तरों पर छात्रों (विशेष रूप से निर्धारित छात्रों) को अधिक-से-अधिक छात्रवृत्तिया दी जानी चाहिए। इस बात का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए कि कोई भी योग्य छात्र केवल आर्थिक अभाव के कारण शिक्षा प्राप्त करने से वंचित न रह जाए। आयोग ने शैक्षिक अवसरों की समानता को बनाने के लिए छात्रवृत्तियो की अनेक योजनाएं भी प्रस्तुत की।

X
Optimized by Optimole