भारतीय शिक्षा का इतिहास एवं विकास -महत्वपूर्ण प्रश्न 46

धार्मिक शिक्षा के विषय में ‘विश्वविद्यालय शिक्षा आयोग’ का क्या दृष्टिकोण था?

उत्तर- ‘विश्वविद्यालय शिक्षा आयोग’ ने स्वीकार किया कि भारत एवं धर्मनिरपेक्ष राज्य है परंतु आयोग ने धार्मिक शिक्षा का महत्व विरोध किया और ना ही धार्मिक शिक्षा के प्रचलन को समाप्त करने का सुझाव दिया आयोग ने केवल धार्मिक कटरता एवं संकीर्णता का विरोध किया।

X
Optimized by Optimole