उत्तर प्रदेश का कौन सा जिला कहा जाता है विश्वनाथ नगरी, जाने…

जब भी हम भारत की विविध संस्कृति, समरसता और अनूठी परंपराओं के बारे में चर्चा करते हैं, उत्तर प्रदेश का नाम सबसे पहले आता है। यह राज्य देश में सबसे अधिक जिलों वाला राज्य है और यहाँ के प्रत्येक जिले की अपनी-अपनी विशेषताएं हैं, जो इसे अन्य राज्यों से अलग बनाती हैं। यहाँ के जिले अपनी संस्कृति और लोगों की आस्था के लिए भी प्रसिद्ध हैं।

आपने उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों का अभ्यास करके उनके बारे में सुना होगा और पढ़ा होगा। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि उत्तर प्रदेश में कौन-सा जिला “विश्वनाथ नगरी” के रूप में भी जाना जाता है? अगर नहीं, तो इस लेख में हम इसके बारे में बात करेंगे।

उत्तर प्रदेश में कितने जिले और मंडल:
पहले हम यह जान लेते हैं कि उत्तर प्रदेश में कुल कितने जिले और मंडल हैं। प्रदेश में कुल 75 जिले हैं, जो कि 18 मंडलों में बाँटे गए हैं। इसके साथ ही, प्रदेश में 822 सामुदायिक विकास खंड, 17 नगर निगम और 437 नगर पंचायत हैं।

कौन-सा जिला है विश्वनाथ नगरी:
अब यह सवाल है कि उत्तर प्रदेश का कौन-सा जिला “विश्वनाथ नगरी” के रूप में भी जाना जाता है। वाराणसी शहर प्रदेश के “विश्वनाथ नगरी” के रूप में जाना जाता है। गंगा नदी के किनारे स्थित यह शहर अपने प्राचीन इतिहास के लिए प्रसिद्ध है। यहाँ के मंदिरों में हर वर्ष लाखों श्रद्धालु आस्था की यात्रा पर आते हैं।

क्यों कहा जाता है विश्वनाथ नगरी:
अब आता है सवाल, कि इस शहर को “विश्वनाथ नगरी” के रूप में क्यों जाना जाता है। यहाँ पर भगवान शिव का विश्वनाथ मंदिर है, जो कि भारतीय संस्कृति में बहुत ही प्रसिद्ध है। भगवान शिव को देवों का देव और पूरे विश्व का नाथ माना जाता है। इसलिए, वाराणसी को हम “विश्वनाथ नगरी” के रूप में जानते हैं।

हम आशा करते हैं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य उत्तर प्रदेश से जुड़े तथ्यों के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

Leave a Comment

Copy link