डॉ० वासुदेव शरण अग्रवाल का जन्म सन 1940 में मेरठ जनपद के खेड़ा ग्राम में हुआ था.इनके  माता पिता लखनऊ में रहते थे.अतः उनका बाल्यकाल लखनऊ में ही व्यतीत हुआ.

यही इन्होंने प्रारंभिक शिक्षा भी प्राप्त की उन्होंने काशी हिंदू विश्वविद्यालय से एम०ए०. की   परीक्षा स उत्तीर्ण की.लखनऊ विश्वविद्यालय ने पाणिनिकालीन भारत शोध- प्रबंध पर इनको पी० एच ०डी० की उपाधि से विभूषित किया.यहीं से इन्होंने डी० लिट् ० की उपाधि भी प्राप्त किए

उन्होंने पालि, संस्कृति ,अंग्रेजी, आदि भाषाओं तथा प्राचीन भारतीय संस्कृति और  पुरातत्व का गहन अध्ययन किया.और इन क्षेत्रों में उच्च कोटि के विद्वान माने जाने लगे.हिंदी के प्रकांड विद्वान को सन् 1967 ई० में नियम से छीन लिया.

साहित्यिक सेवाएँ-

डॉ० अग्रवाल लखनऊ और मथुरा के पूरा तत्व  सग्रहालयो मे निरीक्षक, केंद्रीय, पुरातत्व विभाग के संचालन और राष्ट्रीय संग्रहालय दिल्ली के अध्यक्ष रहे