MP College Update : ऑनलाइन कक्षाओं को लेकर विभाग की बड़ी तैयारी, शिक्षकों को दिया जाएगा प्रशिक्षण-जाने

मध्यप्रदेश में यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले अर्थात यूजी अंडर ग्रेजुएट और पीजी पोस्टग्रेजुएट के विद्यार्थियों की परीक्षा को ऑनलाइन कराने का निर्णय अभी चल रहा है। यदि स्नातक और परास्नातक की परीक्षाएं ऑनलाइन की जाती है तो इसका सीधा फायदा छात्रों को होगा।

मध्य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते हुए खतरे को देखते हुए मध्य प्रदेश कॉलेज में ऑनलाइन कक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग से लेकर उच्च शिक्षा विभाग ने शिक्षकों को ऑनलाइन क्लास आयोजित करने के निर्देश जारी किए हैं। जिससे शिक्षकों को वीडियो और कंटेंट तैयार करने में लगाते और परेशानी का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि इससे पहले शिक्षकों ने ऑनलाइन प्लेटफार्म पर शिक्षण का कार्य नहीं किया।

इसे भी पढ़े …. MP School : नए साल में स्कूलों को मिलेगी बड़ी सौगात, शिक्षा व्यवस्था में होगा सुधार-जाने

अब इस मामले को लेकर उच्च शिक्षा विभाग ने बड़ा फैसला लिया है दरअसल उच्च शिक्षा विभाग ने शिक्षकों को प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है । वहीं शिक्षकों को बेहतर e-content तैयार करने और वीडियो क्लास के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी जिसका सीधा सीधा फायदा यूजी अर्थात अंडरग्रैजुएट अर्थात पीजी पोस्टग्रेजुएट के छात्रों को होगा।

इसे भी पढ़े …. किसान सम्मान निधि : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का किसानों को नए साल पर तोहफा 20 हजार करोड़ किए ट्रांसफर

शिक्षकों को प्रशिक्षण देने के लिए विषयों की सूची बनाकर विषय वार प्रशिक्षण दिया जाएगा। विभाग के निर्देशानुसार 4 जनवरी 2022 से शिक्षकों का प्रशिक्षण शुरू कर दिया जाएगा। दरअसल उच्च शिक्षा विभाग द्वारा शैक्षणिक संस्थानों को ऑनलाइन कक्षा देने के लिए निर्देश दिए गए हैं ।

वहीं शिक्षकों के पास बेहतर संसाधन न होने की वजह से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

इसे भी पढ़े … MP Latest News : छात्रों के लिए सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा , ऐसे मिलेगा लाभ – जाने

मध्य प्रदेश में बढ़ रहे संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए ऑनलाइन कक्षाओं को लेकर उच्च शिक्षा विभाग सख्त हो गया है जिसके बाद अब शिक्षकों को e-content तैयार करने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा यह कंटेंट के तहत 18 विषय रखे गए हैं।

मध्य प्रदेश के सभी जिलों के सरकारी कॉलेज से शिक्षकों का चुनाव किया जाएगा। जिन्हें ए कंटेंट बनाने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा शिक्षकों को e-content तैयार करने से यूट्यूब चैनल पर अपलोड करना होगा । वही प्रदेश में 4 जनवरी से सभी शिक्षकों को प्रशिक्षण देने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

X
Optimized by Optimole