मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 : आवेदन प्रक्रिया,सब्सिडी | मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 | मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना | मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 के लाभ | मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना आवेदन प्रक्रिया | एमपी बिजली बिल माफी योजना सब्सिडी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

कोरोना महामारी के समय देश में अनेक समस्याओं ने जन्म ले लिया। लोगों के बीच में महंगाई ,रोजगार एवं स्वास्थ्य से संबंधित अनेक समस्याएं खड़ी हो गई है । कोरोना काल में नौकरी कर रहे लोगों का लॉकडाउन की वजह से रोजगार तथा नौकरियां चली गई एवं भूखमरी के कगार पर आ गए । लोगों के पास दो वक्त की रोटी के लिए भी पैसे नहीं बचे। ऐसे में मध्यप्रदेश में काफी गंभीर समस्याएं पैदा हो गई। लोगों के पास अपने रोजमर्रा की जरूरतों के लिए ही आमदनी बची। ऐसे में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लोगों की आर्थिक समस्याओं को कम करने के लिए,उन्हें बिजली बिल से राहत देने के लिए “मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022” का शुभारंभ किया। इस योजना के माध्यम से निम्न आय वर्ग के लोगों का बिजली का बिल माफ किया जाएगा।

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना में लॉकडाउन के कारण अनेक लोगों को रोजगार के छिन जाने से उनकी आमदनी पर खासा असर पड़ा । इन्हीं बातों को ध्यान रखते हुए मध्य प्रदेश सरकार लोगों को कुछ राहत प्रदान करने के लिए 7 अप्रैल 2022 को कटनी जिले के सिलमनाबाद में “मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022” नाम की एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना शुरू की।इस योजना लांच का सीधा प्रसारण आकाशवाणी, क्षेत्रीय चैनल के साथ सोशल मीडिया तथा दूरदर्शन इत्यादि के माध्यम से इसका सीधा प्रसारण लोगों को इस योजना के बारे में जागरूक करने के लिए किया गया। इस कार्यक्रम के दौरान माननीय मुख्यमंत्री श्रीमान शिवराज सिंह चौहान जी तथा ऊर्जा मंत्री श्रीमान प्रद्युम्न सिंह तोमर जी के साथ जिले के अन्य पदाधिकारी भी मौजूद थे। इस मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना के माध्यम से करीब 88 लाख लोगों को लाभ प्रदान किया जाएगा । जिस में करीब 6414 करोड़ रुपए का खर्चा आएगा।

प्रदेश में कोविड-19 महामारी के समय निम्न आय वाले घरेलू विद्युत उपभोक्ता जिन का बिल अप्रैल 2020 में विद्युत बिल ₹400 अथवा इससे कम आता होगा, उन विद्युत अथवा बिजली उपभोक्ताओं को 3 महीने अर्थात मई जून-जुलाई महीने का बिजली का बिल रोक रखा था। इसी रोके हुए बिजली बिल को बचे हुए बिल के निपटान के लिए मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 को लागू किया गया है। इस योजना के माध्यम से गरीब घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को काफी राहत मिलेगी। मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना के तहत 31 अगस्त 2020 तक का बिजली बिल का मूलधन तथा सरचार्ज की राशि माफ होगी। इस योजना से मध्य प्रदेश के कम आय वाले बिजली उपभोक्ताओं को काफी फायदा मिलेगा। मुख्यमंत्री बिजली बिलों में राहत योजना 2022 में, 50 पर्सेंट तक बिजली बिल सब्सिडी के रूप में माफ किया जाएगा। बिजली वितरण की कंपनियां उपभोक्ताओं को बिल माफी का सर्टिफिकेट भी प्रदान करेंगे। अतः अगर आप मुख्यमंत्री विद्युत बिलो में राहत योजना के लाभ, उद्देश्य इत्यादि की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 का अवलोकन-

योजना मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022
किसने शुरू की मध्य प्रदेश मध्य प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थी कम आय बाले विद्युत वक्ता उपभोक्ता
इस योजना पर खर्च 6414 करोड़ों रुपए
लांच साल 7 अप्रैल 2022
बिजली बिल में छूट 50% सरकार द्वारा वहन तथा 50 परसेंट बिजली वितरण कंपनियों द्वारा वहन
उद्देश्य कोविड-19 लॉकडाउन के समय आमदनी में कमी के कारण आर्थिक राहत प्रदान करना
आवेदन ऑफलाइन

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 का उद्देश्य-

कोरोना महामारी के समय लॉकडउन लग जाने से मध्यप्रदेश में गरीब लोगों को काम न मिलने के कारण उनकी आय पर व्यापक असर पड़ा। इस कारण वह केवल अपने परिवार का पेट ही पाल पाते थे तथा अन्य खर्च में वह पैसा खर्च करने की स्थिति में नहीं थे, जैसे बिजली बिल ना जमा करना आदि। इसी बात को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा जिन लोगों का कोरोना के समय बिजली बिल को जमा नहीं हो पाया,उन्हें राहत देते हुए उनके बिजली बिल को माफ कर दिया है। मध्य प्रदेश बिजली बिजली बिल माफी योजना 2022 के माध्यम से उन लोगों को राहत प्रदान की जाएगी।

मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 में पात्र बिजली उपभोक्ता-

मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 में वही उपभोक्ता पात्र होंगे जिनकी आय एक निर्धारित सीमा से कम होगी तथा कोरोना के समय जिन्होंने बिल जमा नहीं किया या नहीं कर पाए ऐसे लोगों के लिए पात्रता निम्न है-

  • उपभोक्ता जिनका बिल अप्रैल 2020 में बिजली का बिल ₹400 से कम आया होगा।
  • वे उपभोक्ता जिनका मई जून-जुलाई तक का बिजली का बिल रोका गया हो ।
  • जिन उपभोक्ताओं के पास 1 किलो वाट तक के घरेलू गैस कनेक्शन जिनका 31 अगस्त 2020 तक का विद्युत बिल रोका गया हो, वही मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • वह बिजली उपभोक्ता जो समाधान योजना में सर चार्ज से बचने के लिए बिजली का बिल जमा कर चुके हैं,ऐसे विद्युत उपभोक्ताओं को भी मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 का फायदा मिलेगा। ऐसे उपभोक्ताओं की जमा की गई बिजली बिल की राशि को अगले महीनों के बिल में आधा कर दिया जाएगा । साथ ही जिन उपभोक्ताओं के कनेक्शन काट दिए गए हैं उनके कनेक्शन जुड़वाने पर उन्हें भी इसका फायदा मिलेगा।

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 राहत कैंप-

मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 में मुख्यमंत्री श्रीमान शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बताया कि प्रत्येक जिले के जिला मुख्यालय में राहत प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसी कार्यक्रम में बिजली उपभोक्ताओं को मुख्यमंत्री विद्युत विलो मे राहत योजना 2022 का बिजली बिल माफी का सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जाएगा। इस कार्यक्रम में लोगों के बीच उनके प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे तथा सभी विद्युत वितरण केंद्रों पर कैंप लगाकर बिजली बिल माफी का प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। यह कार्यक्रम क्रमश: 7 अप्रैल एवं 8 अप्रैल को आयोजित हुए तथा बचे हुए सर्टिफिकेट आगे भी प्रदान होंगे।

मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 में दी गई राहत-

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 में अलग-अलग विद्युत उपभोक्ताओं को अलग-अलग प्रकार से बिजली के बिलों में माफी प्रदान की जाएगी-

  • घरेलू संबल उपभोक्ताओं के लिए लगभग ₹49 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है । यह वही उपभोक्ता है जिनका बिजली का बिल अप्रैल 2020 में ₹100 का बिल आया था और उनसे आने वाले 3 महीनों में सिर्फ ₹50 प्रति महीना का बिजली बिल लिया गया।
  • वा
  • वह घरेलू उपभोक्ता जिनका बिजली का बिल अप्रैल 2020 में ₹100 आया या इससे कम आया और उसने अगले 3 महीनों में आए ₹400 के बिजली बिल में से सिर्फ ₹100 का ही बिजली का बिल जमा किया इसके लिए सरकार द्वारा लगभग मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 के तहत 57 करोड़ रुपए का भुगतान किया।
  • वे घरेलू उपभोक्ता जिन्होंने मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 के तहत जिनका बिल अप्रैल 2020 में ₹400 तक आया और अगले 3 महीने में ₹100 से ज्यादा बिल आने पर मात्र ₹50 ही जमा किए, उनके लिए इस योजना में वे लगभग 420 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
  • वह उपभोक्ता जिन्होंने लॉकडाउन के दौरान अप्रैल तथा मई 2020 में पूरा का पूरा बिजली का बिल जमा कर दिया था, उन्हें भी एक पर्सेंट तक की राहत प्रदान की जाएगी।
  • जो उपभोक्ता 1 किलोवाट तक के बिजली भार को उपयोग करते हैं, उन्हें 31 अगस्त 2020 तक की राशि को माफ करने के लिए 4914 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है।
  • मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 में दी गई राहत में सभी राशि पर मार्च 2022 तक बिजली कंपनीयों द्वारा वहन की गई 572 करोड़ रुपए की राशि को भी शामिल किया गया है।

इस प्रकार कुल लगभग 6414 करोड़ों रुपए राशि का भुगतान मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना के तहत किया जाएगा।

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 के प्रॉफिट-

कोरोना तथा लॉक डाउन के कारण प्रदेश के गरीब तबके के लोगों के रोजगार चले जाने से उन्हें काफी समस्याओं को झेलना पड़ा। वह अपनी सिंचाई का बिल, घरेलू बिजली का बिल आदि भी कम आमदनी की वजह से जमा नहीं कर पाए। इसी को ध्यान में रखते हुए गरीब नागरिकों को राहत पहुंचाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 का शुभारंभ 7 अप्रैल 2022 को किया गया। इस योजना के लाभ निम्नलिखित हैं-

  • मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 की मदद से लॉकडाउन तथा कोरोना की वजह से जो गरीब बिजली उपभोक्ता बिजली का बिल नहीं जमा कर पाए उन्हें आर्थिक राहत प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से गरीब बिजली उपभोक्ताओं को बिजली बिल माफ होने से काफी राहत मिलेगी।
  • मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 के माध्यम से प्रदेश के 88 लाख से ज्यादा बिजली उपभोक्ताओं को 6414 करोड़ रुपए की राशि प्रदान कर राहत दी जाएगी
  • मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना के माध्यम से बिजली उपभोक्ताओं के कनेक्शन काट दिए गए थे उन्हें दोबारा कनेक्शन प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना के माध्यम से लॉकडाउन के समय आए बिजली बिल को पूरा माफ किया जाएगा। उपभोक्ताओं को कोई राशि नहीं देनी पड़ेगी। माफ किए गए सर चार्ज का पूरा बिल तथा मूलधन का 50 परसेंट भाग विद्युत वितरण कंपनियों को देना होगा तथा शेष 50 परसेंट बकाया राशि का हिस्सा राज्य सरकार सब्सिडी के माध्यम से विद्युत वितरण कंपनियों को देगी ।
  • मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 में लाभ लेने वाले विद्युत उपभोक्ताओं को कोरोना के दौरान माफ किए गए बिजली बिल पर एक प्रमाण पत्र भी कंपनियों की तरफ से प्रदान किया जाएगा, इसमें यह लिखा होगा कि आपका बिजली का बिल सरकार ने माफ किया है।
  • समाधान योजना का लाभ ले चुके विद्युत उपभोक्ता भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं ।

मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना 2022 आवेदन प्रक्रिया-

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 का लाभ लेने के लिए बिजली उपभोक्ताओं को कहीं और जाने की जरूरत नहीं है, वह इस योजना का लाभ लेने के लिए अपने नजदीकी बिजली वितरण कंपनी के ऑफिस जाकर आवेदन कर सकते हैं वहां पर जाकर उन्हें एक फार्म मिलेगा, जिसमें सभी जरूरी जानकारी भरकर उन्हें वह फार्म वहीं जमा करना होगा।

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 के बारे में निष्कर्षता कहा जा सकता है कि इससे निम्न आय वर्ग के वे लोग जो कोरोना तथा लॉकडाउन के कारण अपना बिल नहीं जमा कर पाए थे, मध्य प्रदेश बिल माफी योजना के तहत अपना बिल माफ करवा सकेंगे। इस योजना से उन्हें काफी आर्थिक राहत प्रदान होगी। अतः कहा जा सकता है कि यह योजना प्रदेश के निम्न आय वर्ग के बिजली उपभोक्ताओं के लिए फलदाई साबित होगी।

 

FAQs…

प्रश्न-मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 किसे कहते हैं

उत्तर- यह योजना मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लॉकडाउन के समय बिल नहीं जमा कर पाए गरीब लोगों को राहत प्रदान करने के लिए शुरू की गई है।

प्रश्न- एमपी बिजली बिल माफी योजना 2022 में कितने लोगों को लाभ मिलेगा

उत्तर-इस योजना के माध्यम से प्रदेश के 88 लाख बिजली उपभोक्ताओं को राहत प्रदान की जाएगी।

प्रश्न-एमपी बिजली बिल माफी योजना 2022 में कितने रुपए का आवंटन हुआ है

उत्तर-मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना के तहत कुल 6414 करोड़ रुपयों का आवंटन किया गया है।

प्रश्न-एमपी बिजली बिल माफी योजना में सरकार द्वारा बिजली के बिल में कितनी छूट मिलेगी

उत्तर- योजना में बिजली के बिल में छूट 50 पर्सेंट बिजली वितरण कंपनियों द्वारा तथा 50 परसेंट सरकार द्वारा सब्सिडी के रूप में कंपनियों को प्रदान की जाएगी।

प्रश्न-मुख्यमंत्री विद्युत बिल में राहत योजना 2022 में प्रमाण पत्र वितरण कैंप कहां लगेंगे

उत्तर- मध्य प्रदेश बिजली माफी योजना के लिए कैंप का आयोजन कंपनियों के ऑफिस में लगेंगे।

Leave a Comment

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
X
Vada Pav Girl Net Worth Post Office KVP Yojana में 5 लाख के मिलते है 10 लाख रूपये, जाने पैसा कितने दिनों में होगा डबल SSC GD 2024 Result, Merit List Cut-Off What is the Full Form of NASA?
Copy link
Powered by Social Snap